शाला समय में विकास खंड शिक्षा अधिकारी के अनुमति के बिना जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय जाने पर होगी कार्यवाही…….जिला शिक्षा अधिकारी ने इन कारणों का दिया हवाला

0

मुंगेली 6 दिसंबर 19 । विकास खंड शिक्षा अधिकारी के अनुमति के बिना जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय जाने पर होगी कार्यवाही ,इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी द्व्रारा विकास खंड शिक्षा अधिकारीयों पर पत्र जारी कर बिना पर्याप्त कारण तथा उचित अनुमति के शिक्षकों को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय आने पर रोक लगाने को कहा है।

दरअसल मुंगेली ज़िले के तीनों विकास खंड लोरमी ,मुंगेली तथा पथरिया के शिक्षकों द्वारा अपने किसी व्यक्तिगत समस्या या अन्य कारणों से शाला समय में ही जिला शिक्षा अधिकारी से सीधे संवाद हेतु जिला कार्यालय पहुँच जाते हैं ,जिससे शाला में शिक्षण सहित विभिन्न प्रकार के कार्य प्रभावित होते हैं ।जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा उक्त मामले में गंभीरता दिखाते हुए शिक्षकों का सीधे संवाद हेतु जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय आने पर रोक लगाते हुए निर्देश जारी किया है।

जिला शिक्षा अधिकारी मुंगेली द्वारा इस संबंध में दिनांक 28.11.19 को विकास खंड शिक्षा अधिकारी लोरमी ,मुंगेली ,पथरिया को पत्र जारी कर कहा है कि कई शिक्षक विद्यालयीन कार्य को छोड़कर किसी निजी कार्य से या सीधे संवाद हेतु इस कार्यालय में आते रहते हैं। यह शैक्षणिक कार्य में बाधक हैं।

आप अपने विकास खंड के शिक्षकों को इस संबंध में निर्देशित करें कि बिना पर्याप्त कारण एवं आपके अनुमति व सहमति के सीधे इस कार्यालय में न आएं।

कुछ विकास खंडों से जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में पत्राचार हेतु जिला मुख्यालय में निवास करने वाले शिक्षकों का सेवा लिया जाता था ,इस रोक लगते हुए जिला शिक्षा अधिकारी ने विकास खंड शिक्षा अधिकारीयों को कहा है कि आप कार्यालयीन पत्राचार के लिए भी किसी शिक्षकों की सेवा न लेवें। पत्राचार कार्यालयीन कर्मचारियों के माध्यम से ही करें।

जिला शिक्षा अधिकारी का यह पहल निश्चित ही शिक्षा के प्रति उनके दूरदर्शिता को दिखता है ,इससे शिक्षकों के शाला समय में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय आने में रोक लगेगी तथा बच्चों इसका लाभ मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here