मॉक पोल के बाद CRC करना भूले ………वेतन वृद्धि रोके जाने की मिली सजा

0

बिलासपुर 19.05.19 । लोकसभा निर्वाचन 2019 के निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने पर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी बिलासपुर ने 4 पीठासीन अधिकारीयों का एक वेतनवृद्धि रोके जाने का आदेश दिया है।

इस संबंध में जारी आदेश के अनुसार पीठसीन अधिकारी श्रीमती हेमलता पांडेय,प्राचार्य ,शा.उ.मा.वि.तखतपुर ,श्री देवचंद बंजारे ,व्याख्याता ,शा.उ.मा.वि.पेंड्रा ,श्री के.एस.राठौर ,प्राचार्य ,शा.हाई स्कूल ,रटगा ,मरवाही ,श्री होरीलाल राय ,व्याख्याता ,शा.हाई स्कूल ,अमारू,पेंड्रा ने निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतते हुए मॉक पोल के बाद CRC की प्रक्रिया किये बिना ही वास्तवीक मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न करा दिया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा इस मामले को गंभीरता से लेते हुए चारो पीठासीन अधिकारीयों को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। इन पीठासीन अधिकारीयों द्वारा जो जवाब प्रस्तुत किया गया है वह समाधानकारक नहीं पाया गया है,इस लिए जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा निर्वाचन कर्तव्य में उपरोक्तानुसार की गई लापरवाही को प्रथम दृष्टया सिद्ध होने पर उपरोक्त अधिकारी /कर्मचारी का आगामी एक वेतनवृद्धि रोकने का आदेश दिया है।

मॉक पोल के पश्चात CRC की प्रक्रिया नहीं किये जाने संबंधी इससे पहले भी एक दो मामला सामने आ चूका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here