सुख-समृद्धि पाने के लिए कुछ खास उपाय,जानिए वास्तु में धन संबधी परेशानियों को दूर करने के उपाय

0

सुख समृद्धि पाने के उपाय:- आज इस दुनिया में कौन नहीं चाहता कि उन्हें सुख-समृद्धि प्राप्त हो। सभी धनवान बनना चाहते है ,सब खुश रहना चाहते है। लेकिन ये सब पाने के लिए आपको कर्म करना पड़ेगा ,कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी तभी आप ये सब प्राप्त कर सकते है। इसके साथ ही आपको ये भी ध्यान देना है की कोई भी काम बिना किसी योजना के सफल नहीं होता। उस काम में सफल होने के लिए आपको जीवन की कुछ विशेष नियमों का पालन भी करना होता है।

सुख-समृद्धि पाने के लिए ज्योतिष और वास्तु के नियमों का पालन करने से लाभ मिल सकता है। वास्तु में धन संबंधी परेशानियों को दूर करने के लिए कुछ खास उपाय:-

1. भगवान कुबेर और सूर्य देव की कृपा पाने के लिए सोते समय अपना सिर ऐसे रखें कि उठते समय आपके पैर पूर्व या दक्षिण दिशा की ओर न हो।

2. न‌ियम‌ित रूप से उगते हुए सूर्य को तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय सूर्य का मंत्र ‘ऊँ आद‌ित्याय नमः’ मंत्र का जप करें।

3. हर द‌िन अपने इष्ट देव की पूजा करें। अगर समय कम हो तो धूप-दीप जलाकर थोड़ी देर उत्तर या पूर्व द‌िशा की ओर मुंह करके ध्यान करें।

4. पूजन के समय तांबे के बर्तन में जल भरकर रखें और उसे पूजा के बाद घर के हर भाग में छ‌िड़क दें। इससे पॉजिटिव एनर्जीबनी रहती है।

5. देवी देवताओं पर चढाए गए फूल और हार सूख जाने पर घर में नहीं रहने दें, इसे जल में प्रवाह‌ित कर देना चाह‌िए।

6. बीमारियों और परेशानियों से बचने के लिए भोजन हमेशा उत्तर की ओर मुंह करके करना चाह‌िए।

7. भोजन हमेशा किचन में ही करना चाहिए, इससे राहु का अशुभ प्रभाव कम होता है। बेडरूम और ब‌िस्तर पर भोजन करने से नेगेटिव प्रभाव पड़ता है।

8. हर द‌िन भोजन बनाते समय पहली रोटी गाय के ल‌िए और अंत‌िम रोटी कुत्ते के ल‌िए न‌िकालकर रख दें। इससे ग्रहों के अशुभ प्रभाव खत्म हो जाते हैं।

9. न‌ियम‌ित तुलसी के पौधे को जल दें और शाम के समय दीपक जलाएं। इससे घर पर हमेशा लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

10.सूर्योदय और सूर्यास्त के समय नहीं सोना चाह‌िए। ऐसा करना कई तरह के दुखों और परेशानियों का कारण बनता है।

ऐसे ही रोचक ख़बर सीधे अपने व्हाट्सप्प पर पाने के लिए हमारे ऑफिसियल व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़ सकते है। ज्वाइन लिंक नीचे है –

Join Our Whatsapp Group

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here